मुख्यमंत्री ने बांका जिले में चांदन नदी के किनारे अवस्थित पुरातात्विक स्थल का किया परिभ्रमण

बांका जिले के अमरपुर प्रखंड के ग्राम
पंचायत भदरिया स्थित चांदन नदी के तट पर
अवस्थित ऐतिहासिक स्थल को पर्यटक स्थल के
रूप में विकसित किया जायेगा- मुख्यमंत्री
 चांदन नदी के वर्ष 1995 से पहले की धारा
को पुनर्जीवित किया जायेगा ताकि इस इलाके की
खुदाई और अनुसंधान सही तरीके से हो
सके।
 इस पुरातात्विक स्थल की खुदाई होगी
जिससे राज्य ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लिए
महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी। जिला प्रशासन
और विशेषज्ञों की टीम इसको लेकर काम कर
रही है।
 चानन डैम का भी विकास किया जायेगा।

पटना 12 दिसम्बर 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने आज बांका
जिले के अमरपुर प्रखंड के ग्राम पंचायत भदरिया स्थित चांदन नदी
के तट पर अवस्थित पुरातात्विक स्थल का परिभ्रमण किया। निरीक्षण के
क्रम में मुख्यमंत्री ने चांदन नदी के पुराने चैनल का मुआयना कर
नदी के पानी के फ्लो को पुराने चैनल से डायवर्ट करने हेतु
अधिकारियों को निर्देश दिया ताकि आर्कियोलॉजिकल एरिया का ठीक
ढंग से खुदाई की जा सके। निरीक्षण से पूर्व मुख्यमंत्री ने इस
संख्या-बउ.572
12ध्12ध्2020

पुरातात्विक स्थल से प्राप्त मृदभांड एवं अन्य पुरातात्विक
अवशेषों का अवलोकन किया। पुरातात्विक स्थल के समीप बने
हेलीपैड पर जिला प्रशासन द्वारा मुख्यमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर दिया
गया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों, नेताओं एवं जिलाधिकारी बांका
श्री सुहर्ष भगत ने पुष्प-गुच्छ भेंटकर मुख्यमंत्री का स्वागत
किया। जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री को अंगवस्त्र एवं स्मृति चिन्ह
भेंटकर उन्हें सम्मानित किया।
चांदन नदी के तट पर अवस्थित पुरातात्विक स्थल के परिभ्रमण
के पश्चात पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक
ऐतिहासिक स्थल है। इसको लेकर स्थानीय लोगों और स्थानीय
विधायक ने मुझे सूचना दी थी। पुरातत्व विशेषज्ञों की टीम
ने यहां आकर अध्ययन करने के बाद मुझे इसको लेकर जानकारी दी। यह
साबित हो गया है कि यह एक ऐतिहासिक स्थल है। यहां के लोगों
को इस बात की जानकारी है कि यहां पर भगवान बुद्ध भी आये थे।
प्रारंभिक अध्ययन में 2600 साल पुरानी चीजें यहां से मिली हैं।
बिहार के विभिन्न हिस्सों में पौराणिक चीजें हैं और सभी
का अपना ऐतिहासिक महत्व है। यह देखकर मुझे काफी खुशी होती
है। इस ऐतिहासिक स्थल को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया
जायेगा। उन्होंने कहा कि चांदन नदी के वर्ष 1995 से पहले की
धारा को पुनर्जीवित किया जायेगा ताकि इस इलाके की खुदाई और
अनुसंधान सही तरीके से हो सके। यहां जो खुदाई होगी उसमें
राज्य ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लिए महत्वपूर्ण जानकारी
मिलेगी। जिला प्रशासन और विशेषज्ञों की टीम इसको लेकर काम
कर रही है। उन्होंने कहा कि चांदन डैम का भी विकास किया
जायेगा।
इस अवसर पर जल संसाधन मंत्री श्री विजय कुमार चैधरी, विधायक श्री
रामनारायण मंडल, विधायक श्री मनोज यादव, विधायक श्री जयंत राज,
मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री चंचल कुमार, जल संसाधन विभाग के
प्रधान सचिव श्री चैतन्य प्रसाद, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी
श्री गोपाल सिंह, भागलपुर की प्रमंडलीय आयुक्त श्रीमती वंदना
किन्नी, जिलाधिकारी बांका श्री सुहर्ष भगत, पुलिस अधीक्षक श्री
अरविन्द कुमार गुप्ता सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति, वरीय पदाधिकारीगण एवं
स्थानीय लोग उपस्थित थे।

Share

Related posts: