Lecture series on photography at NIFT Patna

Patna 14th October 2019- निफ्ट पटना में आयोजित की जाने वाली व्याख्यान श्रृंखला में आज वरिष्ठ फोटोपत्रकार प्रशांत रवि का व्याख्यान था। विषय फैशन फोटोग्राफी, सम्पादकीय फैशन फोटोग्राफी एवं स्ट्रीट फैशन फोटोग्राफी -इसके विभिन्न आयाम एवं तकनीकी बारीकियां। निफ्ट पटना के प्रथम वर्ष के छात्रों के विष्योन्मुख व्याखान का मूल उद्देश्य था उन्हें उनके विषयपरक ज्ञान को और व्यवहारिक बनाना।

Senior Photographer Prashant Ravi in lecture series at NIFT Patna

निदेशक संजय श्रीवास्तव के मार्गदर्शन मे जन व्याख्याता विकास कुमार, एवं अभिषेक चौबे ने इस व्याख्यान को आयोजित किया। छात्रों ने जहां कैमरे से जुड़े तकनीकी बातो को जाना वहीं उसके अन्य नैतिक, व्यवहारिक और  व्यावसायिक पहलुयों पर अपनी उलझनों को सुलझाने की एक समर्थ और सार्थक कोशिश की। अपने शुरुआती व्याखान में  प्रशांत   रवि ने प्रकाश और फोटोग्राफी में उसके प्रभाव को समझाते हुए कहा कि जहां आज मोबाइल कैमरे की धूम से हर कोई फोटोग्राफर तो बन गया है पर उसकी विशेषता और तकनीकि पहलूओं से अनजान के गलती कर बैठता है। जरूरत है समझने कि की इस खिलौने  रूपी कैमरे से आप कैसे एक अच्छा काम कर सकते हैं? और वो तभी संभव है जब हम तन्मयता से इसकी तकनीकी पहलूओं को समझ उसे उपयोग करें। डिजिटल क्रांति ने मानव जीवन में कई परिवर्तन लाये उसमे से डिजिटल कैमरा एक है।इससे जहां घंटों का काम मिनटों में हो जाता है लेकिन उसकी उपयोगिता के साथ कुछ दुश्परिणाम भी सामने आते हैं। आने काम को कैसे सुरक्षित रखें, डेटा चोरी होने से बचाये। कोई भी तस्वीर जिसमें कोई सृजनशीलता न हो , रचनात्मकता का आभाव हो तो उसे टैब तक निष्पादित ना करें जब तक आप संतुष्ट ना हो जाएं। उन्हीने कहा कि कैमरा एक उपकरण है एक माध्यम है, काम तो उसके पीछे की आंखें और दिमाग करता है, जरूरत है उस आंच और बौद्धिकता की खोलने की तभी एक कलाकार अपनी सृजनशीलता और रचनात्मकता को जीवित रख पायेगा। व्याखान के अंता में सचाटरों कई कुछ जिज्ञासाओं को भी संतुष्ट कुया और उन्हें डिजिटल क्रांति से लाभ उठाने की सलाह दी। धन्यवाद ज्ञापन प्रो.विकास कुमार ने किया।

Share

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published.