इस वर्ष की पहली एसएलबीसी की बैठक में राज्य साख योजना की उपलब्धियों की होगी समीक्षा- डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी

by Sunayana singh/content incharge/Bureau chief

पटना : 15 जून को होने वाली राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक राज्य साख योजना की उपलब्धियों की समीक्षा की जाएगी. डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट पर प्रेस रिलिज जारी कर ये बाते कही है. सुशील मोदी ने कहा है कि 15 जून को आयोजित 2020-21 की पहली राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में पिछले वर्ष की राज्य साख योजना की उपबल्धि के साथ ही पीएम गरीब कल्याण पैकेज व आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत केन्द्र सरकार द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ के पैकेज के तहत बिहार में ऋण वितरण की स्थिति की गहन समीक्षा की जाएगी.

मोदी ने बताया कि बैंकों ने वर्ष 2019-20 के लिए निर्धारित 1 लाख 45 हजार करोड़ की बार्षिक राज्य साख योजना के विरूद्ध वर्ष 2018-19 की तुलना में 4 हजार 182 करोड़ कम यानी 1 लाख 5 हजार 400 करोड़ का कर्ज वितरित कर मात्र 72.69 फीसदी ही लक्ष्य हासिल किया. जबकि वित्तिय वर्ष 2018-19 में बैंकों ने 84.29 प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर 1 लाख 9 हजार 582 करोड़ का ऋण वितरित किया था.
उन्होंने बताया कि बैठक में वर्ष 2018-19 की तुलना में 2019-20 में कृषि, एमएसएमई सहित अन्य क्षेत्रों में बैंकों द्वारा कम ऋण वितरण व 17 बैंकों तथा 22 जिलों की साख उपब्धि राज्य साख योजना की उपलब्धि से भी कम रहने की भी समीक्षा की जाएगी.
अब देखने वाली बात ये है कि बैंक हकीकत में लोक कल्याण और सामान्य जनों की बेहतरी के लिए कितने चाक चौबंद होंगे और आम जनता को कितना फायदा मिल पाता है!

Share

Related posts: