लोगों को भा रही मोदी की गारंटी : डॉ संजय मयूख

कल्याणकारी योजनाओं का मिल रहा लाभ , देश को मिली मजबूती

पटना ,देश में लोगों को मोदी की गारंटी भा रही है और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक पहुंच रहा है जिससे पूरे देश की तस्वीर में बड़े बदलाव आए हैं. इसके साथ-साथ देश आर्थिक सामरिक और हर दृष्टिकोण से मजबूत हुआ है. यह बात भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं विधान पार्षद डॉक्टर संजय मयूख ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए गुरुवार को कहीं. उन्होंने कहा कि एक ओर जहां अनुच्छेद 370 की समाप्ति से देश की एकता और अखंडता को मजबूती मिली है वहीं दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट ने भी भारत सरकार की इस पहल पर अपनी मोहर लगाकर इसकी वैधानिकता को साबित किया है. उन्होंने कहा कि देश के तीन राज्यों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शानदार विजय उनकी जन कल्याणकारी योजनाओं के सफल क्रियान्वयन का परिणाम है जिसकी वजह से आज पूरे देश की तस्वीर बदल रही है.
डॉक्टर संजय मयूख ने कहा कि लोगों को मोदी की गारंटी पर भरोसा है और उन्हें यह गारंटी काफी अच्छी लग रही है. मोदी की गारंटी’ आम जन की आकांक्षाओं के प्रति प्रतिबद्धता का प्रतीक है। यह उनकी सरकार के आख़िरी पायदान पर खड़े व्यक्ति की सेवा करने के दृढ़ संकल्प को दर्शाती है। यह हमें एक ऐसी राजनीतिक घटना का साक्षी बनाती है, जिसका अब तक अभाव था, जहां वादों का अर्थ होता है, उन्हें सार्थक रूप से लागू करने की गारंटी। प्रधानमंत्री ने ‘मोदी यानी हर गारंटी, पूरे होने की गारंटी’ का नारा दिया। इन गारंटियों का विस्तार सबसे बुनियादी जरूरतों तक फैला हुआ है।अध्ययनों के अनुसार, पीएम मोदी की वर्तमान सरकार के तहत 13.5 करोड़ लोग गरीबी से बाहर निकले हैं . स्वयं प्रधानमंत्री के शब्दों में, उनकी सरकार ने गरीबों को सेवाओं की घर-घर डिलीवरी को, अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता के रूप में, सेवा की भावना के साथ अपना काम शुरू किया। हाल ही में शुरू की गई ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ इसी सोच के अनुरूप है। चूंकि यह ग्रामीण भारत की जटिल वास्तविकताओं से गुजरती है, इसलिए इस यात्रा का उद्देश्य आख़िरी छोर तक पहुंचना है और लोगों को उन विभिन्न सरकारी योजनाओं के बारे में जागरूक करना है जिनसे वे लाभान्वित हो सकते हैं। . विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ हर घर तक पहुंचाने का अनूठा अभियान हर गांव के टोला बसावटों तक अंतिम पंक्ति में बैठे लोगों को विकास की योजनाओं से सीधा जोड़ने का प्रयास है. 25 जनवरी 2024 तक 2.55 लाख ग्राम पंचायतों और 3,600 शहरी स्थानीय निकायों को कवर करने की योजना के तहत यह पहल, एक तरह से इस देश के गरीबों, हमारी माताओं और बहनों, किसानों तथा इस देश के युवाओं के लिए ‘मोदी की गारंटी’ है। स्वच्छता संकट का खामियाजा भुगतने में भी महिलाएं सबसे आगे रही हैं। 2014 से पहले, गांवों में स्वच्छता कवरेज केवल 40% था, जबकि ‘स्वच्छ भारत मिशन’ के रूप में सरकार के जीवंत प्रोत्साहन के बाद, देश 100% खुले में शौच मुक्त है। इसके अलावा, उज्ज्वला योजना के तहत 10 करोड़ एलपीजी कनेक्शन स्वीकृत होने के साथ धुआं रहित रसोई की सरकार की गारंटी सैचुरेशन के करीब है। आज भारत के लगभग 100% गांवों में एलपीजी कनेक्शन हैं, जबकि पहले यह संख्या 50-55% थी।

डॉ मयूख ने कहा कि आयुष्मान भारत तथा प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के माध्यम से जनता को स्वास्थ्य सुविधा के क्षेत्र में अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम जारी है. मोदी सरकार सत्ता में आने के बाद से ही हेल्थकेयर की रूपरेखा को फिर से परिभाषित करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। आज ‘आयुष्मान भारत पीएम जन आरोग्य योजना’ हर साल 55 करोड़ से अधिक व्यक्तियों को 5 लाख रुपये तक मुफ्त स्वास्थ्य सेवाओं की गारंटी देती है। इस प्रभावशाली योजना के तहत लगभग 27.38 करोड़ आयुष्मान कार्ड जारी किए गए हैं। इसके अलावा, आउट-ऑफ-पॉकेट खर्च को कम करने की कड़ी में, जन औषधि केंद्र, न्यूनतम 75% की छूट पर सस्ती लेकिन गुणवत्तापूर्ण दवाएं प्रदान करते हैं, जिससे 23,000 करोड़ रुपये की बचत होती है। आज, चाइल्ड इम्यूनाइजेशन ने 6 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में लगभग 100% और 17 राज्यों में 90% तक अपनी पहुंच बढ़ा दी है। प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के माध्यम से देश के छोटे-छोटे कारीगरों को स्वरोजगार के लिए जरूरी सुविधाएं सुलभ कराने की दिशा में क्रांतिकारी कदम उठाये गए हैं.

Share your love
patnaites.com
patnaites.com
Articles: 298