2 फरवरी को रिलीज होगी स्मृति सिन्हा की पहली मराठी/ हिंदी फिल्म “मुसाफिरा”


भोजपुरी अभिनेत्री स्मृति सिन्हा के लिए बीता साल 2023 बेहद खास रहा, जिसमें उनका जलवा दर्शकों के ऊपर सर चढ़कर देखने को मिला। इस बीते साल में स्मृति सिन्हा ने ना सिर्फ एक से बढ़ कर एक फिल्म दिए, बल्कि उन फिल्मों में अपनी जीवंत अदाकारी से बॉक्स ऑफिस पर खूब वाहवाही भी लूटी। इस वजह से फिल्म दर फिल्म स्मृति सिन्हा भोजपुरी निर्माता – निर्देशकों की पसंद बनती चली गई, जिसका फायदा उन्हें उनके आने वाले करियर में भी देखने को मिलने वाला है। बीता साल स्मृति सिन्हा के लिए इसलिए भी खास रहा, क्योंकि उन्होंने भोजपुरी के बाद उन्होंने मराठी/ हिंदी फिल्म “मुसाफीरा” में डेब्यू किया, जो किसी भी भोजपुरी एक्ट्रेस द्वारा पहली बार ये कारनामा किया गया। यह फिल्म अगले महीने में 2 फरवरी को सिनेमाघरों को हिट करेगी। इस बड़ी बजट की फिल्म में उनके साथ सुपर स्टार पुष्कर जोग, पूजा सावंत, दिशा परदेशी और पुष्कराज चिरपुटकर मुख्य भूमिका में हैं। ऐसे में स्मृति सिन्हा के फैंस को उनकी इस नई शुरुआत का बेसब्री से इंतजार होगा।

मगर उससे पहले हम आपको ये भी बता दें कि किस तरह से स्मृति सिन्हा ने 2023 को अपने नाम कर लिया। स्मृति सिन्हा इस साल कई सफल फिल्मों के साथ म्यूजिक वीडियो और टीवी स्क्रीन पर अपनी शोख अदाओं और बेतरतीब अभिनय कौशल के साथ नजर आईं। स्मृति सिन्हा का पहला म्यूजिक वीडियो “दुआवां” भी रिलीज हो चुका है, जिसे टी – सीरीज ने रिलीज किया है। बीते साल में जियो सिनेमा के साथ बनी उनकी फिल्म सनम बेवफा खूब चर्चे में रही हैं। तो फिल्म सनक में भी उनके अभिनय की खूब तारीफ हुई और यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाने वाला रहा। वहीं, फिल्म जीने की तमन्ना में भी स्मृति ने अपनी अदाकारी से दर्शकों का दिल जीता, तो फिल्म हर हर गंगे में भी चर्चे में रहीं और सबों के दिलों में अपनी जगह को पुख्ता किया। इन सभी फिल्मों में एक कॉमन बात ये रही कि  सभी फिल्म पवन सिंह के साथ थीं। रितेश पांडेय के साथ फिल्म बबलू की बबली में स्मृति सिन्हा का अलग रूप देखने को मिला, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा और प्यार दिया। तो यश कुमार की फिल्म एक था जोकर और लाला का लालटेन परफॉर्मेंस के हिसाब से उनके ग्राफ को अलग लेवल पर ले जाने वाला रहा है। इस साल विविधताओं से भरे किरदार निभाने का मौका भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में कम हो लोगों को मिला। लेकिन स्मृति ने हर मौके पर साबित किया कि वे हर तरह की किरदार में फिट हैं और दर्शकों ने उनकी इस अदाकारी पर अपनी मुहर भी लगाई। फिल्म छठ के बरातिया में स्मृति सिन्हा खूब सराही गई।

इतना ही नहीं, स्मृति सिन्हा का जलवा टीवी चैनल पर भी खूब देखने को मिला। बॉलीवुड की तरह अब भोजपुरी इंडस्ट्री के कलाकारों को भी टीवी स्क्रीन खूब भाती है, जिसकी जरूरत को समझते हुए स्मृति सिन्हा ने भी टीवी के शोज किए। इसमें सबसे प्रमुख था उनका रियल्टी शो बिग मैम साहब, जिसमें वे जज की कुर्सी पर बैठ कर नए टेलेंट की खोज करती नजर आईं। फिर उन्होंने फेमिना फिल्म फेयर अवार्ड 2023 को होस्ट किया। फेमिना फिल्म फेयर 43 साल की लेगेसी में पहली बार ये भोजपुरी में आया, जिसमें  स्मृति सिन्हा को पहली ही बार होस्ट करने का मौका मिला। उनकी होस्टिंग की कला की तारीफ भी खूब हुई। स्मृति सिन्हा ने टीवी शोज और राष्ट्रीय स्तर के फेमिना फिल्म फेयर 2023 को होस्ट करने के साथ साथ दुबई में आयोजित इंटरनेशनल भोजपुरी फिल्म अवॉर्ड में वर्ष 2022 की बेस्ट एक्ट्रेस क्रिटिक्स भी चुनी गईं।

इन सारी उपलब्धियों के साथ स्मृति सिन्हा 2024 की शुरुआत भी धमाकेदार अंदाज से कर रही हैं, जहां उनकी पहली मराठी/हिंदी फिल्म मुसाफिरा रिलीज हो रही है, वहीं भोजपुरी में मां भवानी और रिटर्न टिकट के साथ भी वे तैयार हैं। स्मृति कहती हैं कि मुझे अपनी मेहनत और काबिलियत पर भरोसा है। मैंने हमेशा कोशिश की कि अपनी हिस्से का किरदार पूरी सिंजिदगी से जीयूं, चाहे हो रियल लाइफ में हो या रील लाइफ में। मुझे लगता है कि आपकी सहजता और सरलता हर जगह आपको आगे लेकर जाती है। इन सब के साथ आपकी जीतोड़ मेहनत और किस्मत के साथ लोगों का प्यार मेरे लिए बेहद अहम है। उम्मीद करती हूं मेरे लिए साल 2024 का हर पल भी खास हो, जिसमें मेरे फैंस और दर्शकों का भी विशेष योगदान होता है। इसलिए मैं ये कहना चाहती हूं कि मैं जनता जनार्दन की शुक्रगुजार हूं, जिनकी वजह से मेरे लिए बीता साल लाइफ का सबसे यादगार साल बन गया और आगे बेहतर करने की प्रेरणा भी मिली, जिसे संकल्प के साथ मैं पूरा करने की कोशिश करूंगी।

Share your love
patnaites.com
patnaites.com
Articles: 298